You are here
Home > Horror Stories > 2020 की रूह को झकझोर कर रख देने वाली कहानी | The Invisible Man Horror Story In Hindi

2020 की रूह को झकझोर कर रख देने वाली कहानी | The Invisible Man Horror Story In Hindi

The Invisible Man Horror Story In Hindi

The Invisible Man Horror Story In Hindi” कहने को तो हम सिर्फ आँखों देखी पर यकीन करते हैं पर अक्सर जो हम देखते हैं वो बस आँखों का एक छलावा होता है। सच तो न जाने कहीं परे हमारी सोच के विपरीत अपना अलग ही रंग जमाएं रहस्यों की दुनिया में विलीन होता है।

वो पर्दा जो सच और झूठ के बीच एक पतली सी दीवार बना बैठा है वो तो बस हमारी ही कल्पना का हिस्सा है। असल में वो पर्दा है ही नहीं जो मान लिया वो सच है और जिसे नकार दिया वो झूठ।

रहस्य और रोमांच की एक नई कहानी The Invisible Man Horror Story In Hindi

यह कहानी पूर्णतया काल्पनिक है… इसका जीवित या मृत व्यक्ति से कोई भी संबंध नहीं है यह सिर्फ मनोरंजन के लिये बनाई गयी है… इसे मनोरंजन के तौर पर ही ले…!


रूह को झकझोर कर रख देने वाली कहानी 

The Invisible Man Horror Story In Hindi

क्वात्रा बड़े चट्टानों के बीच बसा एक छोटा सा शहर था। कहा जाता है 13वीं शताब्दी में यहां एक राजा का राज्य था जहां से एक खास किस्म के पत्थरों का व्यापार होता था। लेकिन कुछ ही सालों में एक अंधविश्वास चारों ओर फैलने लगा।

लोगों का मानना था पत्थरों की खुदाई की वजह से वहां काली शक्ति जाग उठी है। खुदाई के वक्त अजीब सी आवाजें वहां के लोगों को घेरने लगती थी। धीरे-धीरे कुछ अजीब काले साए उस राज्य में मंडराने लगे और एक-एक कर लोग उस राज्य से रहस्यमय तरीके से गायब होने लगे।

जब लोगों में डर इस कदर फैल गया कि वो बाहर जाने से भी डरने लगे तो राजा ने पूरे राज्य को खाली करने का आदेश दिया। अगले दिन जब राजा अपने खास सैनिकों के साथ किले से बाहर आया तो पाया पूरे राज्य में कुएं जैसे बड़े गड्ढे हो चुके हैं और उनमें पानी की जगह खून भरा है। (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

राज्य का कोई भी व्यक्ति वहां नहीं था बल्कि सारे घर खाली हो चुके थे। घरों के दरवाजे खुले थे और हर दरवाजे पर दो लाल पंजों के निशान थे। राजा ने उसी पल राज्य छोड़ने का निर्णय लिया और सेना समेत बाहर की ओर प्रस्थान किया। पर वो राजा न तो नगर से बाहर निकल पाया और न ही कभी वापस देखा गया।

कहते हैं नगर के द्वार से ही वो राजा सैनिकों समेत ओझल हो गया। मानो वो सब हवा में घुल उसके साथ ही उड़ गए।

अंग्रेजों के जमाने तक वो जगह वीरान पड़ी रही लेकिन आजादी के कुछ वर्ष बाद वहां लोगों ने बसना शुरू कर दिया। अब वो शहर पुराने जैसा न रहा | (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

अक्सर तेज हवा के झोंके आसपास तबाही का मंजर ले आते थे। आज का दिन भी कुछ ऐसा ही था। हवा अपनी गति बढ़ा चुकी थी। चिराग और दीपांकर भागते हुए हवा के विपरीत दिशा में आखो को हाथ से ढके अपने अपने घर की ओर बढ़ रहे थे। छोटे पत्ती और कंकड़ भी हवा समझने लगे थे।

इसे भी पढ़े – Top 10 Motivational Books जो आपको जरूर पढ़नी चाहिये | Best Inspirational Motivational Self Help Hindi Books

चिराग – कहा था मैंने आज मौसम खराब रहेगा लेकिन मुझे तो हमेशा खुद की करनी होती है, पता नहीं घर पर सब ठीक होगा की नहीं
 
दीपांकर – अरे यार तो बहुत चिंता करता है बस पहुँच तो गये देख सामने तेरा घर दिख रहा है।

दीपांकर कदमों को जमाते हुए किसी तरह खुद को संभाल रहा था। किसी तरह जब चिराग अपने घर पहुंचा तो जल्दबाजी में दरवाजा खटखटाने लगा। (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

चिराग – बाबा दरवाजा खोलो जल्दी… मैं हूँ चिराग | अच्छा तू अपने घर जा।

चिराग ने बोलते हुए पीछे की ओर देखा… लेकिन जब वो पलटा तो दीपांकर वहां था ही नहीं।

चिराग – हो सकता है वो अपने घर चला गया हो। लेकिन वो बिना अलविदा बोले कभी नहीं जाता |

वो ये सोच वापस पलटता उससे पहले उसे उड़ती धूल के बीच एक धुंधली सी छवि दिखी। कोई वहां खड़ा था उस तेज हवा के बीच वो सिर्फ एक काली आकृति देख सकता था। वो व्यक्ति एक बड़ा काला लिबास पहने हुए था जो हवा में उड़ रहा था। उसके कंधे पर एक मोटी रस्सी लटक रही थी। उसके हाथ में एक टेढ़ी मेढ़ी मुड़ी हुई सी एक लकड़ी थी।

चिराग ने जब उसके चेहरे को देखना चाहा… तो उसे लिबास के अंदर सिर्फ अंधेरा दिख रहा था। तभी अचानक दरवाजा खुल गया।

अवधराम ( चिराग के पिता ) – कहा था अब तक |

सामने चिराग के पिता अवधराम खड़े थे। चिराग बिना कुछ बोले सीधे अंदर की ओर चला गया और खिड़की की आड़ से वापस बाहर झांकने लगा। (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

चिराग – दरवाजा, दरवाजा जल्दी से बंद कर दीजिए |

उसके चेहरे का रंग उड़ चला था। अवधराम हैरान था। दरवाजा बंद कर वो खिड़की के पास आ गया।

अवधराम – क्या हुआ बताएगा… तू आपे में नहीं लग रहा।

इसे भी पढ़े – एक चीज जो आपकी ज़िंदगी बदल सकती है | The One Thing Book Summary in Hindi 2021

चिराग – कोई, कोई खड़ा है… वहां, वहां से मुझे देख रहा है। ऐसा लग रहा है वो मुझसे कुछ बोलना चाहता है।

चिराग अपनी फटी आँखों से बाहर की ओर ताके जा रहा था। अवधराम ने आश्चर्य में खुद खिड़की से बाहर की ओर देखा लेकिन उसे वहां कोई नहीं दिखा। चिराग नीचे बैठा अपने दोनों हाथों को सीने से लगाए काँप रहा था।

परिवार वाले ये सब देख सहम से गए। देर रात तक चिराग अपने कमरे में बैठा कुछ बड़बड़ाता रहा उसकी आवाज सब के कानों तक साफ पहुंच रही थी। फिर सुबह 4 बजे के आसपास अचानक उसकी आवाज बंद हो गई। (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

सबको लगा वो सो गया पर अगली सुबह जब उसके पिता ने उसे उठाना चाहा तो कई बार आवाज देने के बाद भी अंदर से चिराग की आवाज नहीं आई। तब कमरे का दरवाजा तोड़ा गया… तो सबने पाया अंदर कोई है ही नहीं।

अवधराम ऐसा कैसे हो सकता है। कमरा तो पूरी रात अंदर से बंद था।

अवधराम ने परेशानी में चिराग को बाहर खोजना शुरू कर दिया। लेकिन उसका कहीं पता न चला। थक हारकर वो पुलिस के पास पहुंच गया। पुलिस ने जब पूछताछ की तो अवधराम ने बताया |

अवधराम – वो कल अजीब सा बर्ताव कर रहा था। उसका कहना था कोई बाहर खड़ा उसे देख रहा है। देर रात भी वो कुछ बड़बड़ा रहा था।

जब दीपांकर से पूछा गया तो उसने बताया

दीपांकर – सब तो ठीक था कल शाम हम दोनों तेज हवा में फंस गए थे और फिर चिराग मेरी आँखों से ओझल हो गया और मुझे लगा वो अपने घर पहुंच गया होगा।

किसी को कुछ भी समझ नहीं आ रहा था। पूरे कस्बे में एक सनसनी फैल गई। हर कोई चिराग के रहस्यमय तरीके से गायब हो जाने के कारण डरा हुआ सा था। चिराग को गायब हुए अब पूरे तीन दिन बीत चुके थे। पुलिस को भी कुछ सुराग नहीं मिला था। (The Invisible Man Horror Story In Hindi)
 
दीपांकर अपने दोस्त के इस तरह गायब हो जाने के सदमे में घर से बाहर ही नहीं निकलता था। उसके परिवार वाले उसकी हालत देख चिंता में थे। आज उसकी बहन शिया उसे रात का खाना देकर वापस लौटी ही थी कि उसके कमरे से जोर-जोर से चिल्लाने की आवाज आने लगी।

इसे भी पढ़े – इन 5 तरीको से Elon Musk जैसे सोंचना सीखो | The Magic of Thinking Big

परिवार के सभी लोग तुरंत भाग दीपांकर के कमरे में पहुंच गए। दीपांकर खिड़की से बाहर झांकता हुआ काँप रहा था।

दीपांकर – वहां, वहां कोई खड़ा है… कोई काला साया।
 
शिया ने तुरंत उस ओर देखा

शिया – कोई तो नहीं है।

दीपांकर – है, है ना। उसके हाथ में एक लकड़ी है और कंधे पर एक मोटी रस्सी लटकी है।

दीपांकर की आंखें लाल हो चुकी थी। वो बदहवास सा बार बार बोलता रहा | (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

दीपांकर – वो वो मुझे घूर रहा है। उसके चहरे की जगह सिर्फ अँधेरा है।

जाने कब तक वो बड़बड़ाता रहा। जब वो थक कर सो गया तो सब अपने अपने कमरे में चले गये।

अगली सुबह जब शिया उसके कमरे में गई तो उसकी चीख निकल गई। दीपांकर के पूरे कमरे में खून के छींटे पड़े थे। दीवार पर लाल रंग के पंजों के निशान थे। दीपांकर की गर्दन खिड़की के बीचो बीच फंसी थी और उसकी पीठ पर नाखूनों के निशान थे। उसका सिर धड़ से अलग हो बाहर की ओर लटका था।

पुलिस ने जब उसके कमरे की तफ्तीश की तो पाया एक कागज पर सुसाइड लिखा है। उन्होंने जब और खोजने की कोशिश की तो कुछ नहीं मिला। (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

हवालदार – सर मरने से पहले कोई सिर्फ सुसाइड क्यों लिखेगा। आगे कुछ क्यों नहीं लिखा।

सीनियर अफसर – इसका राज तो दीपांकर के साथ ही चला गया। लेकिन इस काले साये का क्या राज है। पहले भोपाल फिर दीपांकर। दोनों का कहना था कि उन्हें कोई बाहर दिख रहा था। कोई तो है जो दोनों से जुड़ा है।

सीनियर अफसर को कुछ समझ नहीं आ रहा था। हर कोई इस भयानक मौत को देख दहल सा गया। काले साये की बात हवा की तरह पूरे शहर में फैल गई। हर कोई अब ये मानने लगा था कि कोई काली शक्ति है वो जिस घर के बाहर दिखती है उस घर में किसी की मौत हो जाती है। (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

दीपांकर के मौत के तीन दिन बाद वो साया फिर से किसी के घर के बाहर दिखा इस बार जो व्यक्ति मरा वो देर रात चिल्लाते हुए उठ खड़ा हुआ था उसका कहना था नींद में अचानक उसकी नजर खिड़की पर गयी तो उसने देखा कोई खिड़की से अंदर की ओर झांक रहा है |

अगले दिन वो वो व्यक्ति भी ठीक उसी तरह रहस्यमय तरीके से मरा मिला जैसे दीपांकर मिला था और वहां से भी एक कागज बरामत हुआ… जिसपर सिर्फ सुसाइड लिखा था | (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

धीरे – धीरे उस काले साये की वारदाते पुरे शहर में घटने लगी और जिस भी घर के बाहर दिखता उस घर का कोई व्यक्ति गायब हो जाता या रहस्यमय तरीके से सुसाइड कर लेता | लोग उसे यम कहने लगे |

इसे भी पढ़े – Christmas Horror Story In Hindi 2020 | भूतिया कहानी

कुछ लोगो का कहना था उन्होंने यम को पास के झील से आते देखा था और उसी झील से वापस चट्टानों की ओर जाते देखा था | जब पुलिस इस केस को सुलझाने में नाकामयाब रही तो उन्होंने फेमस डिटेक्टिव कबीर से मदद मांग ली |

क्या था उस काले साये का रहस्य ?

आखिर क्यों लोग खुद ही सुसाइड कर लेते थे ?

क्या है उस झील का रहस्य ?

क्या है उन चट्टानों के पीछे ?

अगर आप भी इन सभी सवालों का जवाब जानना चाहते है तो हमें कमेंट करके जरूर बतये हम जल्द ही इसके आगे की कहानी लेकर आएंगे तब तक के लिये अलविदा दोस्तों अपना ख्याल रखना और हमारी वेबसाइट को ऐसे ही प्यार देते रहना | (The Invisible Man Horror Story In Hindi)

Leave a Reply

Top