You are here
Home > Horror Stories > खुबसूरत लड़की को तड़पाकर पागल बनाना | Best Real Ghost Stories in Hindi

खुबसूरत लड़की को तड़पाकर पागल बनाना | Best Real Ghost Stories in Hindi

Best-Real-Ghost-Stories-in-Hindi

Best Real Ghost Stories in Hindi, जिसे पढ़ने के बाद आपका शरीर डर से कांपने लगेगा, आपके शरीर से डर के पसीने आने लगेंगे इसलिए दोस्तों जिसके अंदर दम हैं वही इसे पढ़े, कृपया कमजोर दिल वाले Real Ghost Stories in Hindi को ना पढ़े

दोस्तों Real Ghost Stories in Hindi आप लोगो को Internet बहुत कम मिलेंगे, क्योकि Real Ghost Stories in Hindi सबसे अलग, बहुत ही भयानक और सच्ची घटना पर आधारित कहानी हैं, इसलिए दोस्तों इस Real Ghost Stories in Hindi को बड़े ही ध्यान से पढ़ना |

तो चलिए दोस्तों बहुत ही डरावनी, भयानक, खौफनाक और दिल दहला देने वाली Real Ghost Stories in Hindi की शुरुआत करते हैं और इस Real Ghost Stories in Hindi को डर के साथ साथ मजा भी लेते हैं |

Also Read – अमीर बनना हैं तो ये 5 बाते जान लो | Secrets Of The Millionaire Mind

Also Read – गरीब लड़की कैसी बनी IAS | IAS Motivational Story In Hindi For Success


खुबसूरत लड़की को तड़पाकर पागल बनाना 

Real Ghost Stories in Hindi         

दोस्तो ये कहानी एक ऐसे गांव की है जहां के बारे में ना आपने सुना होगा और ऐसा आपने कभी देखा भी नहीं होगा। ये तारागंज की कहानी है। वहां एक लड़का रहता था और अपने ही गांव की एक लड़की से अधिक प्यार करता था। जोकि उसके घर के बगल में ही रहती थी।

एक दिन वह अपने गांव की सारी सीमा पे एक बड़ी सी लकड़ी से लाइन खींचने लगता है। लोग उसे ऐसा करते देख लेते हैं और उससे पूछने लगते हैं कि पागल हो गया है क्या क्या कर रहा है, तो वो लड़का बोलता है कि गांव को बांध रहा हूं ताकि यहां से कभी बाहर न जाऊं।

लोग सोचने लगते हैं कि शायद ये पागल हो गया है। उसकी मां सौतेली थी और उसकी मां को उसके प्यार के बारे में पता चल जाता है और वह उससे बोलती है कि तुम जैसा बेकार लड़का अगर ना हो तो ज्यादा अच्छा है। तुमने आज तक कभी कोई फर्क़ नहीं निभाया है

ना ही तुम किसी काम लायक हो, केवल और केवल तुमने बदनामी ही कराई है। वह लड़का यह सब सुनकर बहुत ज्यादा दुखी हो जाता है और अगले ही दिन नहर पर जाकर अपनी जान दे देता है। जान देने का तरीका भी बड़ा अजीब था। ( Real Ghost Stories in Hindi )

वह जहर खा लेता है और वहां खूब तड़पता है। उस समय गांव का एक मुसाफिर उधर से निकल रहा था। उसने उसे देखा तो उसे उठा कर घर पर ले आया। वह इतना तड़पता है कि जमीन की मिट्टी नाखून से नोंचने लगता है और चिल्ला चिल्ला कर के बोलता है कि

मुझे बचा लो मुझे बचा लो पर बहुत प्रयास करने के बाद भी वह मर जाता है। उसका परिवार, गांव में जाना माना बदनाम था, इसलिए पुलिस के आने के डर के कारण उसे गांव के ही नहर के पास जला देते हैं। उसके बाद शुरू होता है आतंक का तांडव। ( Real Ghost Stories in Hindi )

अब वह हर रोज आता था और गांव का ऐसा कोई भी घर नहीं था जहां वह रात में पानी मांगने न जाता हो क्योंकि उसने जहर खाया था और पानी उसे मिला नहीं था और वह प्यासा मरा था। क्योंकि मरते समय वह पानी मांग रहा था और गांव की ही एक लड़की उसके लिए पानी ला रही थी

Also Read – भूतों की 3 सच्ची डरावनी कहानियाँ | The Real Ghost Stories in Hindi

Also Read – रूह को झकझोर कर रख देने वाली कहानी | The Invisible Man Horror Story In Hindi

लेकिन उसका पैर फिसलता है और पानी गिर जाता है। जब तक वह दुबारा पानी लेकर के आती वह प्यासा मर चुका था। वह जिस लड़की से प्यार करता था उसका नाम सोनिया था। वह हर रात उसके पास जाता था और जब सुबह होती थी तो सोनिया नहर के पास ही मिलती थी।

फिर वह लड़की सोचती कि आखिरकार उसके साथ ये क्या हो रहा है क्योंकि उसे कुछ याद भी नहीं रहता था। वह यही सोचती थी कि सोती हूं घर पर। पर यहां कैसे आ जाती है, तो लोगों ने सोचा कि उसे नींद में चलने की आदत हो गई होगी और उसे डाक्टर को दिखाया गया। ( Real Ghost Stories in Hindi )

डाक्टर ने उसे देखा दवा भी दी लेकिन उसे कोई फायदा नहीं हुआ। हर दिन वही होता था जो उसके साथ पहले होता था। लड़की को नहीं पता था कि उसके साथ क्या हो रहा है। इन सब से परेशान होकर लड़की के घरवाले उसे एक तांत्रिक के पास ले जाते हैं।

तांत्रिक उसकी पूजा करके उसे एक ताबीज दे देता है। जब वह ताबीज को लेकर के घर आई तो उस लड़के की आत्मा को बहुत गुस्सा आया और उसने उससे कहा कि ऐसा मत करो ताबीज मत बांधो। वास्तव में उस लड़के का नाम संजेश था। ( Real Ghost Stories in Hindi )

इसी तरह एक दो दिन बीतता है और एक दिन रात में सच में लड़की के सामने आकर वह अपना असली रूप दिखा के बोलता है कि तू बाबा के पास गई थी तुझे क्या लगता है कि तू बच जाएगी तेरी वजह से मेरी जान गई, ना तेरे से रिश्ता रहता,

ना ही मेरे घरवाले कुछ कहते और ना ही मैं गुस्से में जहर खा कर के मारता। तब सोनिया कहती है मैंने कुछ नहीं किया है चले जाओ तुम मुझसे प्यार करते हो तो चले जाओ। संजेश अब बोलता है चुप रहो एक शब्द भी मत बोलो, कोई प्यार नहीं, ( Real Ghost Stories in Hindi )

तू वही है जिसकी वजह से मेरी जान गई, अब देख तेरी कैसी हालत करूँगा। तू न मरेगी और ना तु जीयेगी और तो मौत मांगेगी लेकिन तुझे नसीब नहीं होगा। उसके बाद से हर रोज लड़का रात में आता, लड़की को बहुत मारता पीटता है और हर सुबह लड़की के घरवाले देखते हैं कि

उसकी कहीं नाक कहीं सिर कहीं हाथ कुछ न कुछ टूटा फूटा या कटा ही रहता था। एक दो महीने बाद उस लड़की की दिमागी हालत खराब होती गई। वह भी अब मिट्टी नोच नोच के खाने लगी। जैसा वो लड़का खा करके मरा था, लड़की के घरवालों को एक विद्वान बाबा के बारे में पता चलता है।

वो वहां जाते हैं और उन्हें ढूंढ करके लाते हैं। पर लड़के की आत्मा इतनी शक्तिशाली थी कि कोई भी उसे अपने वश में नहीं कर पा रहा था। उस बाबा ने भी अपनी शक्तियों के द्वारा आत्माओं से बात करने की कोशिश की और उसने बोला कि क्या चाहता है तू ये बता। ( Real Ghost Stories in Hindi )

तभी संजेश की आत्मा बोलती हैं दिखाई तो कुछ नहीं पड़ता पर आवाज आती है कि इस घर को मैं नहीं छोड़ूंगा। इस धोखेबाज के चक्कर में मेरी जान गई है, मुझे इसी घर में रहना है, इस घर में मुझे जगह चाहिए। यह लड़की इसी कमरे में रहेगी वरना मैं सबको मार डालूंगा।

आखिर में थक हार कर के घर में ही दूर आँगन में कमरे में सोनिया को रख दिया जाता है और साथ में बाहर से ताला लगा दिया जाता है। सोनिया अब उसी कमरे में रहती है और पूरे घर को बांध दिया गया था। आज भी सोनिया उसी कमरे में रहती है और संजेश का जब मन करता है

तब वह उसे मारता पीटता है और चिल्लाता है। आज इस बात को सात साल हो गए और सोनिया लगभग 32 साल की हो चुकी है लेकिन वह पूरी तरह पागल हो चुकी है। सच्चाई तो यह है कि वह पूरी तरीके से पजेसिव हो चुकी है। उसका अपने ऊपर कोई कन्ट्रोल नहीं है। 

उसकी हालत ऐसी हो गई है कि वह जमीन को नोच कर के खाती है। दीवारों से बात करती है और उसकी शक्लो सूरत ऐसी है कि कोई इंसान भी देख ले तो शायद डर के बेहोश हो जाएगा। वह किसी बंधन में न होते हुए भी एक बहुत बड़े बंधन में बंधी हुई है। ( Real Ghost Stories in Hindi )

संजेश ने मरने से पहले गांव को एक लकड़ी की मदद से बांधा था और सच यह है कि आज भी वह उससे बाहर नहीं गया है और वह वहीं रह रहा है। आज सात साल बीत जाने के बाद उस गांव में एक लड़का आता है जिसका नाम रूपेश था। वह गांव के ही राघव चाचा के घर पर आया था।

उनका दूर का रिश्तेदार था। सच्चाई तो ये थी कि वो कभी वहां आया नहीं था, बस चाचा के कहने से वो वहां पर घूमने चला आया था। एक दिन वह गांव में इधर उधर फोटो खींच रहा था तभी उसकी नजर उस घर पर पड़ती है और वह उसकी भी तस्वीर उतारने लगता है।

तस्वीर उतारते उतारते वह उस कमरे के पास पहुंच जाता है और बाहर से उसे कुछ आवाजें सुनाई देती है। उसे लगता है कि कुछ तो गड़बड़ है क्योंकि अब उस घर में कोई रहता नहीं था। स उस कमरे में सुबह शाम खाना पहुंचा दिया जाता था। ( Real Ghost Stories in Hindi )

गांव वाले भी कुछ नहीं कहते थे क्योंकि सब अपनी जान बचाना चाहते थे इसलिए हर राज छुपाए रहते थे। सब खौफ में जीते थे। उसने सोचा कि कुछ न कुछ तो इस घर में गड़बड़ जरूर है और वह दीवाल फांद कर के अंदर चला गया। जब वह अंदर गया तो उसने देखा कि

Also Read – इन 5 तरीको से Elon Musk जैसे सोंचना सीखो | The Magic of Thinking Big

Also Read – एक चीज जो आपकी ज़िंदगी बदल सकती है | The One Thing Book Summary in Hindi

उस कमरे में बाहर से ताला लगा हुआ है और जब खिड़की पर धक्का मारकर के उसने अंदर झांका तो अंदर उसने वह भयानक रूप देखा जिसे देख कर उसकी रूह भी कांप गई। उसने देखा कि अंदर एक लड़की है जो देखने में खुद एक भूत जैसी लगती है। ( Real Ghost Stories in Hindi )

पूरी तरीके से डरावनी शक्लो सूरत वाली वो लड़की थी और वह जमीनों को खुरच रही थी। यहां तक की अपने शरीर को भी नोच रही थी। वह उसकी हालत देखकर वे बहुत घबरा जाता है और कूद कर बाहर निकल आता है। वह किसी तरह अपने आपको शांत करता है और गांव के ही कुछ लड़कों से पूछने लगता है कि क्या माजरा है

तो सारे लड़के उसे पूरी कहानी बयां कर देते हैं। पूरी कहानी जानने के बाद वह समझ जाता है कि अगर गांव में किसी से कुछ कहा तो कोई मदद नहीं करेगा और उसके मन में पता नहीं कहां से एक ऐसी किरण जग जाती है, वह सोचता है कि वह उसे बचाएगा जरूर। ( Real Ghost Stories in Hindi )

शायद उसकी दुर्दशा पर उसे रहम आ गया था, अब वह दो दिन तक केवल यही सोचता है कि वह करे तो क्या करे और तीसरे दिन जब रात होती है तो वह दुबारा से दीवाल कूद कर के अंदर जाता है और जाने के बाद वह उस ताले को तोड़ने की कोशिश करता है

लेकिन आवाज ज्यादा होने के कारण वह वहां से लौट आता है और वह सोचता है कि किसी तरह अगर इस कमरे की चाभी मिल जाए तो शायद वह उस लड़की को बचा सके। इसके लिए वह उस घर के रहने वाले लोगों के घर में जाता है। चूंकि जो लोग उस घर में रहते थे

उन्होंने कुछ दूर पर नया घर बना लिया था और उनसे संपर्क बनाने लगता है। करीब तीन दिन में उनके घर में उसका अच्छा खासा आनाजाना हो जाता है और वह पता कर लेता है कि चाभी कहां है और चौथे दिन वह धीरे से चाभी को निकाल लेता है, ( Real Ghost Stories in Hindi )

फिर उसी रात वह दुबारा दीवाल कूद करके अंदर जाता है और ताला को खोल देता है। जैसे ही वह ताले को खोलता है, वह लड़की उसके ऊपर जानवरों का जैसे कूद पड़ती है। वह उसे काबू में नहीं कर पा रहा था। पूरी कोशिश करने के बाद भी उसका बदन भी नोचते हुआ चला जा रहा था।

लेकिन किसी तरीके से वह उसे काबू में करता है और पास में ही पड़ी रस्सी से उसे बांध देता है। वह लड़की उसके बाद बेहोश हो जाती है। वह पानी डाल करके उसे होश में लाता है और उससे बात करना चाहता है लेकिन वह कुछ भी बोलने की हालत में नहीं थी। ( Real Ghost Stories in Hindi )

न जाने वो क्या क्या बड़बड़ा रही थी। वह समझ जाता है कि कुछ न कुछ मामला गड़बड़ है तभी उसे ऐसा महसूस होता है कि किसी ने उसे कमरे से बाहर ढकेल दिया। न चाहते हुए वह गिरता पड़ता कमरे से बाहर आ जाता और कमरा अपने आप बंद हो जाता है।

वह वहां से वापस लौट आता और अपने चाचा से कहता कि वह दो दिन बाद वापस आएगा और वहां से एक अपने दोस्त के घर चला जाता। वहां जाकर उसे वह पूरा हाल बताता है, तो उसका दोस्त कहता है कि क्यों ना हम अपने परिवार के ही गुरूजी से मिलते हैं

तो वो कहता चलो मिलते हैं और वो लड़का उनको जाकर के पूरी बात बताता है और उन्हें साथ मे ले करके चला आता है। गाँव वाले बहुत डर जाते हैं। गाँव वाले उसे ऐसा करने से रोकते हैं। लेकिन वो कहता है कि अगर उसे रोका गया तो वह पुलिस को बुला लेगा। ( Real Ghost Stories in Hindi )

गांव वाले अब दोनों तरफ से फंस जाते हैं क्योंकि वो नहीं चाहते थे कि पुलिस आए और कई लोगों को गिरफ्तार करे, इसलिए न चाहते हुए भी वो शांत हो जाते हैं और वह गुरुजी को ले करके उस कमरे में जाता है। उसके बाद से गुरुजी ने पूजा शुरू की।

करीब दो दिन तक वहां पर पूजा चली। बहुत सारी घटनाएं घटी, बहुत सारी समस्याएं खड़ी हुई, लेकिन आखिर में उन्होंने उस रूह को आजाद कर दिया और उस लड़की को उस रूह के कब्जे से बचाया। उसके बाद से वो लड़की करीब डेढ़ साल तक अस्पताल में रही और अब जा करके वह थोड़ा थोड़ा होश में आ चुकी है।

अभी भी उसका पागलपन पूरी तरीके से खतम नहीं हुआ है लेकिन आशा यही है कि धीरे धीरे वो सही हो जाएगी और उस लड़की से कोई शादी नहीं करना चाहता था, तो उस लड़के ने उससे शादी भी कर ली है।


तो दोस्तो यदि ये थी Real Ghost Stories in Hindi, आपको कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताएगा। दोस्तों यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिएगा |

दोस्तों ना गलत करें ना कभी किसी को गलत करने दें और जब भी जरूरत पड़े तो दूसरे की मदद के लिए हरदम तैयार रहें क्योंकि जब हम दूसरे की मदद करते हैं तो जरूरत पड़ने पर हमें भी मदद जरूर मिलती है।

Also Read – 3 दुनिया की सबसे रहस्यमयी किताबें | Most Mysterious Books in The World

Also Read – Top 10 Motivational Books जो आपको जरूर पढ़नी चाहिये | Best Inspirational Motivational Self Help Hindi Books

 

Leave a Reply

Top