You are here
Home > Moral Stories > अपनी गलती का अहसास होना | Happy Merry Christmas Story For Kids in Hindi 25 December

अपनी गलती का अहसास होना | Happy Merry Christmas Story For Kids in Hindi 25 December

Happy Merry Christmas Story For Kids in Hindi

Merry Christmas Story For Kids in Hindi एक बहुत ही प्यारी और Moral Story हैं, यह कहानी आप लोगो को एक अच्छा इंसान बनाएगा और साथ ही जरुरतमंदो की मदद करना भी सिखाएगा, तो दोस्तों आप सभी इस कहानी को बड़े ही ध्यान से पढ़िए और अपने आप को एक अच्छा इंसान बनाइए |

दोस्तों Merry Christmas Story For Kids in Hindi बहुत ही कम मिलती हैं, दोस्तों यह सबसे अलग कहानी हैं, इसलिए इस कहानी को शुरू से अंत तक बड़े ही ध्यान से पढ़िए और इस Merry Christmas Story For Kids in Hindi के माध्यम से कुछ सीखने का प्रयास कीजिये, 

तो चलिए दोस्तों Merry Christmas Story For Kids in Hindi की शुरुआत करते हैं |


अपनी गलती का अहसास होना |

Merry Christmas Story For Kids in Hindi      

बहुत पहले की बात हैं, एक छोटा सा शहर था, जहां पर सभी उत्साहित थे क्योकी Christmasका मौसम था, सारे बच्चे खुशी से गा रहे थे और नाच रहे थे। सिवाय एक इन्सान जिसका नाम मिस्टर स्क्रूज था, वो एक बड़े घर में और बहुत प्यारे शहर में रहता था। मगर वो बहुत ही खड़ूस आदमी था, जब बच्चे उसकी खिड़की के नीचे गाते थे तो उन पर चिल्लाता था,

वो बहुत ही चालाक और पैसे वाले दिमाग का आदमी था। वो बहुत ही खड़ूस था और कभी किसी की मदद नहीं करता था, एक बार एक आदमी को नोट के छुट्टा की जरूरत पड़ गई, वह आदमी स्क्रूज के पास और बोला 

आदमी बोला –  भाई साहब आप मेरी मदद कर सकते हो। मुझे इस नोट का छुट्टा दे सकते हो। मुझे अपनी छोटी बहन के लिए चॉकलेट खरीदना है,

स्क्रूज ने गुस्से से कहा – मैं  तुम्हारी मदद क्यों करूं। मुझे तंग मत करो, जाओ यहां से |

वो अक्सर शहर में सबसे गुस्से में बात करता था और सभी उससे दूर रहते थे। क्रुज का कोई दोस्त नहीं था। वो क्रिसमस से पहले दिन का शाम था, जब सभी छुट्टियों के लिए तैयारी करने में व्यस्त थे। और खुश थे सिवाय स्क्रूज के, वो अपने घर के खिड़कियां और दरवाजे बंद कर दिया था |

इसे भी पढ़े – एक चीज जो आपकी ज़िंदगी बदल सकती है | The One Thing Book Summary In Hindi 2021

स्क्रूज अपने बिस्तर पर चढ़ गया और जल्दी सो गया। उसके सोने के थोड़ी ही देर में एक अतीत का भूत उसके सामने प्रकट हुआ, उस भूत को देखकर स्क्रूज डर गया और बोला (Happy Merry Christmas Story For Kids in Hindi)

स्क्रूज ने कहा – कौन हो तुम ? क्या चाहते हो ?

भूत ने कहा – मैं तुम्हारे अतीत का भूत हु, मै तुम्हे कुछ दिखाना चाहता हू, चलो मेरे साथ |

तब भुत ने उसे उसकी अतीत में ले गया और एक नन्ही सी स्क्रूज  की ओर उंगली किया वो अकेले किताब पढ़ रहा था, उसके मां बाप ने उसे कई साल पहले क्रिसमस के दिन अकेला छोड़ दिया था। स्क्रूज यह देखकर बहुत दुखी हुआ और  वो नहीं देख पा रहा था,

जब उसने चिल्लाया मुझे और नहीं देखना, ये सब बंद करो और एक ही झटके में सब कुछ गायब हो गया और स्क्रूज अपने आपको उसके बिस्तर में पाया डरा हुआ, वो फिर से वापस सोने ही वाला था, जब खिड़की में वर्तमान का भूत उसके सामने प्रकट हुआ |

स्क्रूज ने कहा – अब तुम कौन हो ? मुझे कहां लेके जाओगे ? 

भूत ने कहा – मैं तुम्हारे वर्तमान का भूत हूँ और मै तुम्हे दिखाना चाहता हूं कि क्रिसमस किसके बारे में है । 

फिर उस भूत ने स्क्रूज का हाथ लिया और वो दोनों खिड़की से बाहर उड़ गये, भूत उसको क्रिसमस की खुशी दिखाने आया था। वो उसे एक गरीब परिवार के घर ले आया। वो दोनों खिड़की से झांक रहे थे। उन गरीब परिवार के घर में कोई विशेष खाना नहीं था मगर सभी बहुत खुश थे। 

इसे भी पढ़े – ऐसी 5 बातें जो आपको स्कूल में नहीं सिखायी जाती | 5 Self Improvement Tips In Hindi

स्क्रूज सोचा – इतना गरीब होने के बावजूद ये सब खुश कैसे हैं ?

भूत ने कहा – क्योंकि ये क्रिसमस है ये सब एक दूसरे के साथ रहने में ही खुश है।

स्क्रूज ने अपनी आंखें बंद की और सोचा कि काश वो भी क्रिसमस का दिन किसी के साथ बिता सके। जब उसने आंखें खोला तो उसने अपने आप को बिस्तर में पाया। स्क्रूज इस बार सो नहीं सका वो बिस्तर में बैठे सोचा कि उसने अब तक क्या क्या देखा। रात के 12 बजे और एक ठंडी हवा उनकी खिड़की से गुजरा। भविष्य का भूत प्रकट हुआ ।

स्क्रूज ने कहा – कौन हो तुम ?

भूत ने कहा – मैं तुम्हारे भविष्य का भूत हूँ |

फिर भूत ने स्क्रूज को  एक अंतिम संस्कार में लाया। कुछ लोग वहां खड़े होकर उसकी आलोचना कर रहे थे।

एक व्यक्ति ने कहा – मुझे पता था ये होगा।

दुसरे व्यक्ति ने कहा – इतने पैसे होने का क्या फायदा हुआ।

तीसरे व्यक्ति  ने कहा –  कोई इस खडूस स्क्रूज को सम्मान नहीं देने वाला।

स्क्रूज ने भुत से पूछा कि वह उसे यहां क्यों लाया ? किसका अंतिम संस्कार है ये ? अचानक उसे समझ आया कि वह उसका ही अंतिम संस्कार था और कोई उसे सम्मान देने वाला नहीं था।(Happy Merry Christmas Story For Kids in Hindi)

भूत ने उसे उसकी गलती का एहसास दिलवाया। स्क्रूज ये सहन नहीं कर पाया और भूत से विनती किया,

स्क्रूज ने विनती करते हुआ कहा – कृपया मुझे अपने भविष्य को बदलने का एक मौका दो, मैं वादा करता हूं कि मैं एक बेहतर इन्सान बनूंगा और लोगों की मदद करूंगा। (Happy Merry Christmas Story For Kids in Hindi)

इसे भी पढ़े – 10+ Short Moral Stories In Hindi | 10+ शिक्षाप्रद कहानियां

भूत कुछ नहीं बोला और गायब हो गया, अब क्रिसमस का दिन आ गया था, और स्क्रूज अपने आपको वापस अपने बिस्तर में पाया। सूरज की धूप खिड़की के दरारों से अंदर आया,  स्क्रूज सालो में पहली बार चेहरे पर हंसी के साथ उठा, उसने अपने आप को वादा किया की अब से लोगो का मदद करेगा और उनकी ख्याल रखेगा,

फिर उसने सभी को क्रिसमस का जश्न मनाने अपने घर बुलाया और सभी के लिए तोहफे लाये, सभी दंग रह गये मगर सभी खुश थे की स्क्रूज बदल गया, उस रात सभी एक शानदार क्रिसमस जश्न में भाग लिए और तब से तब से स्क्रूज उस शहर का बहुत प्यारा इन्सान बन गया था । (Happy Merry Christmas Story For Kids in Hindi)


तो दोस्तों आप लोगो को अपनी गलती का अहसास होना | Merry Christmas Story For Kids in Hindi, कैसी लगी हमे कमेंट करके जरुर बताये और साथ ही अपनी गलती का अहसास होना | Merry Christmas Story For Kids in Hindi को दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे |

Leave a Reply

Top