You are here
Home > Motivational Stories > ऐसे बनते है ‘Legend’ | An Inspirational Story Of Lionel Messi

ऐसे बनते है ‘Legend’ | An Inspirational Story Of Lionel Messi

An Inspirational Story Of Lionel Messi

ऐसे बनते है ‘Legend’ | An Inspirational Story Of Lionel Messi

An Inspirational Story Of Lionel Messi – कुछ साल पहले Argentina की Governement को Special Rule बनाना बड़ा था जिसके चलते कोई भी Parents अपने बच्चों का नाम Messi नहीं रख सकते थे और इसके पीछे Reason था ये बंदा Lionel Messi क्यूंकि वहां Messi नाम के लोग इतने हो चुके थे की आगे चलके सबकी पहचान ख़तरे में पड़ जाती।

Messi फुटबॉल के इतिहास में सर्वश्रेष्ठ Football खिलाड़ियों में से एक है जिन्होंने 6 Blunder Awards जीतकर कई Records भी बनाए। वैसे तो Messi नाम और Messi के Records तो सब जानते हैं लेकिन Messi को Messi बनाने के लिए कितनी मुश्किल और कठिनाइयों का सामना करना पड़ा है ये बहुत ही कम लोग जानते हैं और इनकी ये Journey काफी Inspiring भी रही हैं।

इस बंदे को 10 साल की छोटी उम्र में Growth Hormone Deficiency जैसी भयानक बीमारी का सामना करना पड़ा। इस बीमारी के चलते Body की Growth रुक जाती है और Football तो एक ऐसा Game है जिसमें बंदे का कद बहुत मायने रखता है।

10 साल की उम्र में अगर ऐसी Situation आए तो बहुत से बच्चे टूटते हैं हार मान जाते हैं पर हार मान जाए वो Legend कैसा । और इस बीमारी के इलाज में इस बंदे को छोटी सी उम्र में हर दिन अपने पैरों पर Injection लगवाना पड़ता था, जो कि एक 10 साल की बच्चे के लिए बहुत ही तकलीफ दायक था।

और इस बीमारी का इलाज भी काफी महंगा था जिसके चलते इनके Parents की सारी Savings खत्म हो गयी और ऐसी हालत में कोई उन्हें Loan देने के लिए भी तैयार नहीं था क्योंकि Messi के पिता एक मामूली Worker थे और मां दूसरों के घरों में काम करती थीं।

इसे भी पढ़े – ज़िद हो तो Cristiano Ronaldo जैसी | An Inspirational Story Of Cristiano Ronaldo

दोस्तों हर Winner में एक बात Common होती है और वो ये कि कितनी भी मुसीबत आए, कितनी भी तकलीफ हो, कितनी बार भी हार का सामना करना पड़े ये तब तक पीछे नहीं हटते जब तक ये जो चाहते हैं उसे हासिल नहीं कर लेते। और ऐसे बुरे वक्त में Messi ने भी कभी हार नहीं मानी पर अपनी Practice को Double कर दिया क्योंकि इस उम्र तक आते-आते Football उनके लिए Game से बढ़कर उनकी जिन्दगी बन चुका था।

ऐसी बीमारी के हालात में ये बंदा Match खेलने के लिये चला गया और इसका ईनाम उसको तुरंत मिला… क्यूंकि वो Match देखने के लिए Barcelona Youth Club के Director आये थे। Messi का Game देखकर वो काफी Impress हो गए और वो तुरंत Messi के माता-पिता से मिलने चले गए।

उनसे मिलने की बात उन्हें पता चला कि Messi को एक Growth Hormone Deficiency नामक बीमारी है। इसके बाद उन्होंने Messi के माता-पिता को एक Offer दिया क्योंकि Team Messi के इलाज का सारा खर्चा उठाएगी लेकिन उसके लिए Messi को Spain आकर Barcelona Youth Club के लिए खेलना पड़ेगा।

इसे भी पढ़े – औकात बदलने के लिए ऐसा पागलपन होना जरुरी है | Life Changing Experience

उस हालत में Messi का इलाज करना उनके Parents के लिए मुमकिन नहीं था इसलिए वो तुरंत ही इस Offer के लिए मान गए और Messi Spain चले गए जहां उनका ठीक से इलाज हुआ लेकिन इस बन्दे की छोटी Height के चलते कई बार उन्हें अपनी Team में खेलने का मौका नहीं मिला और मौका मिला तो भी उनके Team Members उन्हें Ball पास नहीं करते थे पर Messi तो Messi है वो जैसे तैसे करके Ball ले लेते और फिर 15-15 Minutes तक कोई उनसे Ball छीन नहीं पता था।

आज कोई ऐसा Football Lover नहीं होगा जो Messi को नहीं जानता। मैं तो कुछ ऐसे लोगो को भी जानता हूं जो Football को Messi की वजह से जानते हैं। 2012 में 91 गोल बनाने वाले Messi इकलौते खिलाड़ी बने और इसके चलते उनका नाम Guinness Book of World Records में लिखा गया।

ये ऐसे इकलौते Player है जिनके पास 6 Golden Boot Award है इसके साथ ही Messi Socially भी बहुत से चीजों में Active है। 2012 में इन्होंने एक बच्चे के 6 साल की Medical Bills के लिए Sponsor किया था जो Growth Hormone Deficiency नामक बीमारी का सामना कर रहा था जिससे कुछ साल पहले ये बंदा खुद गुजर चुका था।

इसे भी पढ़े – Top 5 Amazing Facts | गंगा का पानी कभी भी खराब क्यों नहीं होता है?

दोस्तो कहते हैं हर सपना पूरा होता है, हर ख्वाहिश पूरी होती है और ये दुनिया भी झुकती है बस बंदा झुकाने वाला चाहिए जो हर मुसीबत के सामने चट्टान की तरह खड़ा हो।

Leave a Reply

Top